ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
 मेरठ में कोरोना वायरस तीसरी हुई मौत कोरोना से संक्रमित  मरीजों की संख्या ७३ पहुुंची
April 19, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ
  •  संक्रमित मरीज को दो  दिन अस्पताल में रखने पर संतोष हास्पिटल का लाइसेंस संस्पेड
  •  ७७ लोगों कोरनटिनं में भेजा ४० लोगों के सैंपल जांच के लिये  रात को भेजे  

यूरेशिया संवाददाता
मेरठ, ।कोरोना वायरस को लेकर मेरठ की स्थिति खराब हो गयी है शनिवार को भी एक संक्रमित मरीज की लाला लाजपत राय अस्पताल में मौत  होने से कोरोना से संक्रमित मरीजों के मरने वालों की संख्या में बढ कर ३ हो गयी है। वहीं शनिवार को   तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर संक्रमित मरीजों की संख्या में ७३ पहुंच गयी है। वहीं सीएमओं डा राजकुमार ने संतोष अस्पताल के संचालक के खिलाफ कार्रवाही करते हुए अस्पाल का लाइसेंस संस्पेड कर दिया है। जिस मरीज की मौत शनिवार को हुई थी उसे संतोष हास्पिटल में दो दिन रखा गया था।
  शनिवार को मेडिकल कालेज के आइसोलेशन वार्ड में  भर्ती संतोष हॉस्पिटल के एकाउन्टेंट चंन्द्रपाल की मौत हो गयी। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। इस तरह मेरठ में कोराना वायरस से मरने वालों की संख्या तीन पहुंच गयी है। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गढ रोड स्थित राजनगर व संतोष हास्पिटल के एक किलोमीटर के क्षेत्र को  सील कर दिया गया है।
 राजनगर सराय काजी निवासी चन्द्रपाल संतोष हॉस्पिटल में एकाउटेट के पद पर कार्यरत था। उसकी तबियत खराब होने पर संतोष हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। जहां उसकी तबियत खराब होने के  कारण उसे मेडिकल कालेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। उसकी जांच कर सैंपल जांच के लिये भेजा गया था। आधी रात के बाद चन्द्रपाल  की तबियत बिगडनी आरंभ हुई उसे सांस लेने में तखलीफ हो रही थी। चिकित्सकों दल  ने उसे  बचाने का भरसक प्रयास किया। लेकिन तडके उसने दम तोड दिया। लाला लाजपत राय मेडिकल कालेज के प्रचाार्य डा आरसी गुप्ता नेबताया मरीज को संदिग्ध मानकर करआइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था।  उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी । तडके उसकी मौत  हो गयी। उन्होने बताया शव को तीन लेयर पॉलिथिन में शव को परिजनों को सौप दिया गया है। उन्होने बताया उसके इलाके को सील कर दिया गया है। उसके सम्पर्क में आने वालीे की तलाश की जा  रही हैॅ।
 ४० लोगों के सैंपल जांच के लिये भेजे गये
  स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना से संक्रमित मरीज चन्द्रपाल  की मौत के बाद ४० लोगों के सैंपल जांच के लिये भेज दिये है। इसमें मेडिकल के पांच डाक्टर , तीन स्टॉफ नर्स ,दो वार्ड ब्वाज के अतिरिक्त चन्दपाल के सम्पर्क में आये अन्य लोगो शामिल है। इन सभी के शनिवार को सैंपल लेकर जाच क लिये भेज दिये है।
  इमरजेंसी केा किया गया सैनिटाइजर
  मेडिकल कालेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती संक्र मित चन्द्र पाल की मौत के बाद पूरी इमरजेंसी को सेनिटाइजर किया गया। इसके अतिरिक्थ्त आसपास के क्षेत्र को सेनिटाजर किया गया।
  तीमारदार को पुराने के ब्लाक से उठाया
 संक्रमित चन्द्रपाल की तिमारदारी करने वाले के ३१५ रहने वाले व्यक्ति को शनिवार को स्वास्थ्य विभाग ने उठा लिया है। पुराने के ब्लॉक को सील कर वहां के रहने वालों को होम कोरेटिन कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त परिवार के चार सदस्य, दूधवाला,तीन लैब टेकनिशियन, किरायेदार,  को मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है।
वहीं प्रशासन ने रात में संतोष हास्पिँटल को सील  करने की कार्रवाही शुरू कर दी है। वहां तैनात कर्मचारियों को कारेटाइन में भेजनीे की तैयारी की जारही है। बता देें  मेरठ में कोरोना वायरस से मरने वालीें की संख्या तीन पहुंच गयी है। पहला मरीज खुर्जा  के ठीक हुए इमराम का सुसर था। दूसरा जमातियों के सम्पर्क में आये ताहिर व तीसरा चन्द्रपाल है। तीन कोरोना वायरस से संक्रर्तित मरीजों की मौत के बाद शहर में हडकंप मच गया है।रविवार को भी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने संतोष मेडिकल हास्पिटल के स्टॉफ केा उठा लिया है।  

  •   संतोष हास्पिटल के एक किलोमीटर को क्ष्ेात्र को हॉट स्पार्ट किया  घोषित

 संतोष हॅास्पिटल के एकाउन्टेंट चन्द्रपाल की कोरोना वायरस से मौत होने के  बाद स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन पूरी तरह एक्शन मोड में आ गया है। कोरोना सो संक्रमित का इलाज करने के मामले में सीएमओ ने संतोष हॉस्पिटल का लाइसेंस को रद कर दिया । अस्पताल के आसपास के क्षेत्र केा पूरी तरह सील कर दिया गया है। अस्पताल के चिििकत्सक , स्टॉफ नर्स, वार्ड ब्वॉज व कर्मचारियों को कारेटिन कर दिया गया है। सीएमओ डा राजकुमार ने बताया अस्ताल ने इसमें घोर लापरवाही की है। दो दिन तक कोरोनों से संक्रमित मरीज को अस्पताल में रखा। यहं घोर लापरवाही की है।
  लक्खीपुरा में तीन संक्रमित मिले
 शनिवार को १५३ सैंपल की जांच की गयी। जिसमें चार की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। जिसमें  एक की मौत हो गयी। जबकि तीन लक्खीपुरा की निकले है। जो पूर्व में एक जमाती के सम्पर्क में आये परिवार के सदस्य है।
    शासन हुआ गंभीर
 मेरठ में तीन और पॉजिटिव मरीज मिलने से व एक संक्रमित की मौत होने पर शासन पूरी तरह गंभीर हो गया है। इस मौके पर सीाएम ने प्रदेश के सभी मंडलायुक्त ,डीएम  व पुलिस अधिकारियों को निर्देश्शत किया है। कि लॉक डाउन का संख्ती से पालन कराया जाए। लापरवाही बरतने पर कठौर कार्रवाही की जाएगी। आदेश के बाद  पुलिस प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह एक्शन मौडमें आ गया है।