ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
आत्मनिर्भर भारत लिखेगा नई इबारत: सैनी
July 11, 2020 • विकास दीप त्यागी • बागपत/ बड़ौत

विश्व बंधु शास्त्री

बागपत। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सैनी ने कहा है कि आत्मनिर्भर भारत नई इबारत लिखने की ओर अग्रसर है और इसके लिए देश के प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में काम किया जा रहा है।
  श्री सैनी शुक्रवार को यहां वर्चुअल प्रेस वार्ता में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उद्योग व अर्थ-व्यवस्था पर कोविड-19 के स्पष्ट तौर पर बढ़ते जा रहे प्रतिकूल प्रभाव के चलते ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ एक संबल बन कर उभरा है। विश्व-स्तरीय महामारी ने व्यवसायों व रोजग़ार की संवहनीयता व निरंतरता हेतु कई प्रकार की उलझनें उत्पन्न कर दी थीं। लोगों को विशेषकर किसान, दिहाड़ी श्रमिक,ठेले खोमचे वाले और व्यापारियों के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत उनके कल्याण के लिए कार्य किया जा रहा है।
  उन्होंने कहा करीब तीन महीने के लाक डाउन में आर्धिक गतिविधियां मंद गति से चल रही थी। दुनिया के विभिन्न देश भी इस समस्या से गुजर रहे हैं। लेकिन देश के प्रधानमंत्री मोदी ने अपने देश के नागरिकों को यह भरोसा दिया है कि देश में अन्न की कोई कमी नहीं है और अपना देश अपने देश की जनता के साथ अन्य देशों को अनाज दे सकता है। इसी को देखते हुए आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत हमारे प्रधानमंत्री ने देश के गरीब तबके के लोगों को मुफ्त में अनाज देकर इस महामारी के बीच उनको राहत देने का कार्य किया है।
 श्री सैनी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत क्षतिग्रस्त अर्थ-व्यवस्था के पुनरुत्थान हेतु आवश्यक प्रोत्साहन प्रदान किया जा रहा है। इस अभियान के तहत देश की विकासात्मक यात्रा को एक ताज़ा गति-शक्ति प्रदान करने के लिए लागू किया गया है।इसमें न केवल उद्योगों के सभी वर्ग समाविष्ट हैं, अपितु इस की संरचना समाज के भी सभी वर्गों की आवश्यकताओं की पूर्ति करने में भी सक्षम है।
 उन्होंने बताया कि इस योजना से 3 लाख करोड़ रुपए मूल्य के कोलेट्रल-फ्ऱी ऑटोमैटिक लोन्स इस समय तनाव में चल रहे ‘सूक्षम-लघु व मध्यम उद्यमों’ (एमएसएमईज) को निश्चित तौर पर बड़ी राहत प्रदान करने वाला है। सरकार का पैकेज ‘मगनरेगा’ के अंतर्गत अतिरिक्त कार्य-दिवसों द्वारा कामगारों के कल्याण तथा शहरी कर्मचारियों हेतु सस्ते आवासीय स्थान उपलब्ध करवाने हेतु भी तैयार किया गया है।
  सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के अंतर्गत आने वाले प्रवासी परिवारों हेतु कम कीमतों पर अनाज तक पहुंच हेतु पोर्टेबिलिटी को योग्य बनाने से लगभग 67 करोड़ लाभार्थियों को तत्काल लाभ होगा तथा इससे रोजग़ार हेतु कर्मचारियों को आवागमन की सुविधा मिलेगी। इसके साथ ही ग़ैर-कार्ड धारक प्रवासियों को दी गई कवरेज सभी को पूर्णतया सम्मिलित करने की पहुंच है, जिसके दीर्घकालीन सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे
 भारत सरकार का पैकेज ‘मगनरेगा’ के अंतर्गत अतिरिक्त कार्य-दिवसों द्वारा कामगारों के कल्याण तथा शहरी कर्मचारियों हेतु सस्ते आवासीय स्थान उपलब्ध करवाने हेतु भी तैयार किया गया है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के अंतर्गत आने वाले प्रवासी परिवारों हेतु कम कीमतों पर अनाज तक पहुंच हेतु पोर्टेबिलिटी को योग्य बनाने से लगभग 67 करोड़ लाभार्थियों को तत्काल लाभ होगा।