ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
भाकियू तोमर की बैठक आयोजितः 26 अगस्त को तहसील बेहट पर होने पर धरने प्रदर्शन को लेकर की चर्चा
August 23, 2020 • विकास दीप त्यागी • सहारनपुर मण्डल

प्रमोद शर्मा/ यूरेशिया

छुटमलपुर  भाकियू तोमर की बैठक में मिलो पर किसानों के गन्ने का बकाया भुगतान, गन्ने खरीद का समर्थन मूल्य 400 करने,बच्चों की फीस माफी सहित 26 अगस्त को तहसील बेहट पर धरने सहित किसानों की अन्य मुद्दों को गहनता से उठाया गया

रविवार को  ग्राम खेड़ी में अरुण शर्मा के आवास पर भाकियू तोमर के मंडल प्रभारी अजय पुंडीर ने कहा की प्रदेश सरकार के राज में डीजल ,खाद और बीज के दामों में बेतहाशा वृद्धि हुई है जबकि गन्ने की फसल के मूल्य मे केवल ₹10 कुंटल की वृद्धि कर सरकार किसानों के संग मजाक कर रही है जबकि इस महंगाई के दौर में गन्ने की फसल पैदा करने  का भी खर्चा पूरा नहीं हो रहा है उन्होंने कहा कि किसानों द्वारा पैदा की गई फसलों के वाजिब दाम देने में योगी सरकार ध्यान नहीं दे रही है उन्होंनेनु कहा कि बिजली विभाग बिलों में भारी बढ़ोतरी करके भेज रहा है जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा उन्होंने कहा कि 26 अगस्त को तहसील बेहट में किसानों की समस्याओं के लिए धरना दिया जायेगा जिसमें अधिक से अधिक कार्यकर्ता अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें बैठक में  मंडल प्रभारी अजय पुंडीर  ने राजेंद्र कुमार बर्मन को ब्लॉक मुजफ्फराबाद महासचिव की जिम्मेदारी दी गई बैठक में मंडल प्रभारी प्रतिनिधि वीरेंद्र राणा उर्फ मिंटू ने कहा की स्कूलों के संचालकों द्वारा स्कूल बंदी के समय की फीस  वसूलने का दबाव बनाएंगे तो यूनियन उनका जमकर विरोध करेंगी उन्होंने कहा कि स्कूल बंद समय की कोई फीस नहीं दी जाएगी मुजफ्फराबाद ब्लॉक के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जॉनी राणा ने कहा कि बिजली विभाग द्वारा उपभोक्ताओं को त्रुटि युक्त बिल दिए जा रहे हैं जिन्हें ठीक करने के नाम पर किसानों का भारी उत्पीड़न किया जा रहा है जिसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा उन्होंने कहा कि किसानों को गन्ने का  चार सौ रुपए कुंतल समर्थन मूल्य दिया जाना चाहिए उससे कम मूल्य पर लागत का खर्चा भी नहीं निकल रहा है इस दौरान अमरीश राणा, अजय प्रताप राणा, सुरेंद्र धीमान, सतीश राणा ,अर्पित राणा, अजय चौहान, सर्व सिंह, अजब सिंह, लोकेश कुमार आदि मौजूद रहे