ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
जिलाधिकारी ने की प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट डॉक्टरों के साथ बैठक
August 25, 2020 • विकास दीप त्यागी • मेरठ
  • सारी व आईएलआई मरीजों की सूचना दें सभी प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट डॉक्टर-जिलाधिकारी
  • सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करें सभी प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट डॉक्टर-जिलाधिकारी
  • प्राइवेट अस्पताल व डॉक्टरों द्वारा मरीजों की सूचना न देने पर जिलाधिकारी ने जताई कड़ी आपत्ति

 यूरेशिया संवाददाता

मेरठ   विकास भवन सभागार में आयुक्त मेरठ मंडल के निर्देश पर प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट डॉक्टर की बुलाई बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि सरकार द्वारा जारी निर्देशों का अक्षर अनुपालन प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट डॉक्टर करें। उन्होंने कहा कि सभी प्राइवेट अस्पताल व ओपीडी करने वाले सभी प्राइवेट डॉक्टर सारी व आईएलआई  मरीजों की सूचना मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय को आवश्यक रूप से उपलब्ध कराएं। उन्होंने कम प्राइवेट अस्पतालों व डॉक्टरों द्वारा यह सूचना उपलब्ध कराए जाने पर अपनी कड़ी नाराजगी व्यक्त की।
       जिलाधिकारी ने कहा कि सारी (सीवर एक्यूट रेस्पिरेट्री इनफेक्शन) व आईएलआई (इनफ्लुएंजा लाइक इलनेस) मरीजों की सूचना उपलब्ध होने पर कोरोना के मरीजों की कांटेक्ट रेसिंग में आसानी होगी।उन्होंने बताया कि जनपद में लगभग 170 प्राइवेट अस्पताल हैं जिनमें से 147 प्राइवेट अस्पतालों ने यह सूचना उपलब्ध नहीं कराई है। उन्होंने कहा कि अब तक मात्र 9 केसस प्राइवेट अस्पतालों द्वारा दर्ज कराए गए हैं यह संख्या काफी कम है। उन्होंने कहा कि संभावित मरीजों  लक्षण मरीजों की सूचना आवश्यक रूप से उपलब्ध कराई जाए।
       डॉ अशोक तालियान ने कहा कि प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट ओपीडी चलाने वाले डाक्टर अपने यहां कार्य करने वाले पैरामेडिकल स्टाफ की कोरोना जांच के लिए उन्हें सूची उपलब्ध कराएं ताकि उनकी भी जांच समय-समय पर होती रहे। उन्होंने कहा कि अगर प्राइवेट अस्पतालों व प्राइवेट क्लीनिक चलाने वाले डॉक्टरों को किसी मरीज की कोरोना जांच करानी है तो वह सरकारी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज में भेज सकते हैं या उनको मोबाइल वैन भी उपलब्ध कराई जा सकती है।
        जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ विश्वास चैधरी ने कहा कि प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट डॉक्टर फ्रॉम वन व टू में सूचना उपलब्ध कराएंगे। उन्होंने कहा कि 1 दिन की रिपोर्ट अगले दिन की प्रातः 11रू 00 बजे तक प्रत्येक दशा में उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा कि यह रिपोर्ट आईडीएसपी प्राइवेट हॉस्पिटल के व्हाट्सएप ग्रुप पर या ईमेल आईडी पकेचउममतनज/हउंपसण्बवउ पर उपलब्ध कराई जा सकती है या इसके लिए प्रभारी बनाई गई डॉक्टर रचना टंडन के मोबाइल नंबर पर भी उपलब्ध कराई जा सकती है।
       आई एम ए अध्यक्ष डॉ अनिल कपूर व पूर्व अध्यक्ष डॉ तनुराज सिरोही ने कहां कि सभी प्राइवेट अस्पताल व प्राइवेट ओपीडी संचालित करने वाले प्राइवेट डॉक्टर प्राथमिकता पर मरीजों की सूचना जिला प्रशासन को उपलब्ध कराएंगे इसके लिए वह अपने स्तर से प्रयास करेंगे व सभी को प्रेरित करेंगे। उन्होंने कहा कि जो भी शिथिलता है उसको दूर किया जाएगा।
        इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ईशा दुहन ,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजकुमार, डॉ, पूजा शर्मा, डब्ल्यूएचओ के डॉ संजय मेहरोत्रा, डॉ जेवीएस चिकारा, डॉ सुनीता सूरी, डॉ रचना टंडन, डॉ संजय शर्मा, डॉ एसपी अग्रवाल, डॉ नागेंद्र, डॉ विजय सिंह, डॉ भूपेंद्र शर्मा ,डॉ के ए खान, डॉ के बी अग्रवाल, डॉ मोहित कुमार सहित अन्य चिकित्सक अधिकारी गण उपस्थित रहे।