ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
कोरोना संक्रमणः खतरनाक स्थिति में है मेरठ कमिश्नरी, सतर्क रहें, घर पर रहे और स्वस्थ रहे
June 14, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ मंडल के 6  जिलों में कोरोना रफतार खतरनाक होती जा रहीं है। इस स्थिति में आम लोगों को विशेष तौर से सतर्क रहने की जरूरत है। संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। 2671 केस कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने कोरोना संक्रमण को लेकर फार्मूला दिया है। उन्होंने कहा है कि आम लोगों को यह भी समझना होगा कि लॉकडाउन में अनलॉक-1 का आदेश है। लॉकडाउन खत्म नहीं हुआ है। 30 जून तक लॉकडाउन है। 

शनिवार को कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने मेरठ मंडल की स्थिति को मीडिया के सामने स्पष्ट किया। उन्होंने कहा कि मंडल में अब तक 2671 केस आ चुके हैं। 1049 अब सक्रिय केस हो चुके हैं। 1527 केस रिकवर हो चुके हैं। ये लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं, लेकिन हाल के दिनों में काफी तेजी से संक्रमण बढ़ा है। ऐसा एक जून से अनलॉक होने के कारण हुआ है। 

लोगों का आना-जाना बढ़ गया है। मंडल में कोरोना संक्रमण खतरनाक स्थिति में है। इस बात को आम लोगों को समझना होगा। आम लोग अभी इस बात को समझ नहीं पा रहे। उन्होंने कहा कि लोग यह समझ लें कि लॉकडाउन खत्म नहीं हुआ है। केवल आवश्यक सेवाओं, सुविधाओं के लिए अनलॉक-1 लागू किया गया है। अनलॉक का आम दिनों की तरह प्रयोग न करें। इसी में सभी की सुरक्षा है। इसलिए अपने घरों में रहे और सुरक्षित रहे। 

  1. घर से बाहर निकलें तो मास्क अवश्य लगाएं, बिना मास्क न निकलें
  2.  सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन करें
  3.  लगातार हाथ धोएं, सैनिटाइज करें। 
  4.  65 साल से अधिक उम्र के वृद्ध, 10 साल से कम उम्र के बच्चे बाहर न निकलें
  5.  गंभीर बीमारियों से पीड़ित व्यक्ति बाहर निकलने से परहेज करें। नियमित चिकित्सकीय परामर्श लें। दवाई लें
  6.  गर्भवती महिलाएं आवश्यक न हो तो घर में ही रहें। बाहर न निकलें। 
  7.  सर्दी, खांसी या हो बुखार, तुरंत जांच कराएं
  8.  सर्दी, खांसी या बुखार होते ही घर के अन्य सदस्यों से अपने को अलग कर लें
  9. घबराएं नहीं, इलाज कराएं। डाक्टर से संपर्क में रहें।