ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
कोरोना से लड़ने के लिये मेरठ में सभी व्यवस्था दुरुस्त : सीएमओ
March 20, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ

  • सभी सीएचसी-पीएचसी पर की गयी ब्लीचिंग पाउडर के घोल से सफाई
  • शहर से लेकर देहात के सभी चिकित्सा केन्द्रों में वार्ड व अन्य सुविधाएं मौजूद
  • मेरठ में नहीं है कोई पॉजिटिव मरीज, छह संदिग्ध आइसोलेशन में
     

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ, 20 मार्च 2020 । जनपद में कोरोना से निपटने की सभी व्यवस्था दुरस्त हैं। शहर से लेकर देहात के सभी सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (सीएचसी, पीएचसी व यूपीपीएचसी) में ब्लीचिंग पाउडर के घोल से सफाई की जा रही है। इसके साथ ही संक्रमण से बचाव के लिए सार्वजिनिक स्थानों पर जहां लोगों को आना-जाना ज्यादा है, वहां सफाई के लिए ब्लीचिंग पाउडर के पैकेट उपलब्ध करा दिये गये हैं। सरकारी विभाग, निजी संस्थानों में लगातार जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। अस्पतालों के वार्डो में वेंटीलेटर, आक्सीजन, दवा समेत अन्य सभी इंतजाम पूरे हैं। हालांकि अभी तक जनपद में कोरोना का एक मरीज नहीं है।
 मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजकुमार ने बताया जनपद में कोरोना का एक भी पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है। अभी तक 18 लोगों के सेम्पल भेजे जा चुके हैं, जिनमें 11 की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। आइसोलेशन वार्ड में छह लोगों को रखा गया है। यह लोग विदेश से लौटे हैं। उन्होंने बताया कोरोना वायरस के 90 मरीजों को भर्ती करने की सुविधा उपलब्ध है। इसके लिये मेडिकल कालेज में 80 बेड व जिला अस्पताल में दस बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। यहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हैं। उन्होंने बताया स्वास्थ्य विभाग ने परतापुर में 60 कमरों का एक छात्रावास का अधिग्रहण कर लिया गया है। छात्रावास के कमरों को स्पेशल वार्ड की तरह तैयार किया जा रहा है। विदेश से आने वाले यात्रियों को इन कमरों में स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रखा जाएगा। चिकित्सकों की टीम यहां रहने वालों की प्रति दिन जांच पड़ताल करेगी। उन्होंने बताया स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को विकास भवन में कोरोना वायरस से बचाव, उपचार व सावधानियां बरतने की बकायदा ट्रेनिंग दी जा चुकी है। ट्रेनिंग लेने वालों में स्वास्थ्य विभाग के शहर व देहात के अधिकारी हैं, जो अपने क्षेत्र में जाकर कार्यशाला कर लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने बताया मेडिकल कालेज, जिला अस्पताल की इमरजेंसी में बेड की संख्या बढ़ा दी गयी है। अस्पताल प्रशासन ने इन वार्ड में स्टाफ, डाक्टर की अतिरिक्त डयूटी बढ़ा दी है। उन्होंने कहा- इस मामले में कोई भी कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सीएमओ ने कहा विभाग के पास दवा की कोई कमी नहीं है। शहर व देहात की सीएचसी व पीएचसी में ब्लीचिंग पाउडर के पर्याप्त पैकेट भेजे जा चुके हैं। सभी एमओआईसी अपनी -अपनी सीएचसी व पीएसची में कमरों, दीवारों, शौचालय, वाशिंग रूम में ब्लीचिंग पाउडर के घोल से सफाई करा रहे हैं। --