ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
कृषि बिल में हो संशोधन: भाकियू ने राष्ट्रपति के नाम तहसीलदार को दिया ज्ञापन
October 1, 2020 • URESHIYA News • मेरठ

सतीश चन्द त्यागी/युरेशिया

खरखौदा । भारतीय किसान यूनियन (भानू) के पदाधिकारियों ने भाजपा सरकार द्वारा पारित कृषि बिल का विरोध करते हुए बिल में संशोधन करने के लिए  राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नाम  तहसीलदार मेरठ को ज्ञापन सोंपा है।ज्ञापन में किसान हित में कृषि बिल में तीन संशोधन करने की मांग की गई है।
भारतीय किसान यूनियन भानू के पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष राजीव अधाना के नेतृत्व में संगठन के पदाधिकारियों ने गांव फफूंडा में राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नाम किसानों के भले के लिए कृषि बिल में संशोधन के लिए तहसीलदार रामचंद्र नाइक को ज्ञापन सौंपा है।
ज्ञापन में 1955 के विधेयक में का जिक्र करते हुए कहा गया कि पहले आवश्यकता वस्तु अधिनियम था जिसे बदलकर भंडारण नियमण शुरू किया गया है जो कि किसान हित में नहीं है इस बिल से जमा खोरी को बढ़ावा देने तथा इससे आम लोगों के लिए महंगाई दर बढ़ना बताया गया । मूल्य आश्वासन पर बंदोबस्त एवं सुरक्षा समप्रोत में अगर रेट को लेकर आने वाली समस्या के लिए मंडी समिति को मध्यस्थता करनी चाहिए । यदि किसी गांव से कोई समझौता किया जाता है तो उसके लिए ग्राम प्रधान की मध्यस्थता होना जरूरी बताया है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा पारित बिल में कृषि उत्पादन व वाणिज्य अधिनियम में किसानों से कहा गया है कि वो अपनी फसल कहीं भी बेच सकते हैं। उन्होंने बताया कि वो पहले भी बेच रहे थे। मंडी में तो केवल 6 प्रतिशत ही फसल बिक रही थी। इसमें msp संबंधित कानून लाने की बजाय msp से नीचे फसल की खरीदारी करने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने का कानून बनाना चाहिए। सरकार को उपरोक्त बिलों में संशोधन करना किसान हित में बेहद जरूरी बताया है।इस मौके पर राजीव अधाना पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष भाकियू फरहा ठाकुर पश्चिमी उत्तर प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष रेश्मा राणा राष्ट्रीय प्रवक्ता महिला मोर्चा राजकुमार प्रधान पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रमुख महासचिव प्रदीप त्यागी जिला महासचिव सुधीर त्यागी जिला प्रभारी विकास शर्मा जिला प्रमुख महासचिव हिमांशु त्यागी तहसील अध्यक्ष मेरठ नीरज खारी मीडिया प्रभारी मेरठ आदि मौजूद रहे।