ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
मेनापूठी के तीन युवकों को ले गई थी नोएडा क्राइम ब्रांच
October 10, 2020 • URESHIYA News • मेरठ

उस्मान खान यूरेशिया संवाददाता

सरूरपुर। बाइक खरीदने के लिए मैंनापुठी के तीनों युवकों को अगवा नहीं किया गया था। बल्कि नोएडा की क्राइम ब्रांच की टीम उठाकर ले गई थी इस मामले का खुलासा शनिवार की सुबह हुआ तथा परिवार वाले नोएडा पहुंचे। हालांकि इस मामले में क्राइम ब्रांच की हड़बड़ाहट और जल्दबाजी में तीनों निर्दोष युवकों को टीम उठाकर ले गई।

गौरतलब है कि मैंनापुठी निवासी नूर हसन पुत्र रियासत, शेर मोहम्मद पुत्र इस्माइल वह फिरोज पुत्र मीनू शुक्रवार की देर शाम रुपये लेकर करनावल बाइक खरीदने के लिए निकले थे लेकिन रास्ते से ही गायब हो गए थे।

जिनकी तलाश परिवार के लोगों ने की लेकिन कोई सुराग नहीं मिल पाया था । तो रात में पुलिस व ग्रामीण तीनों युवकों को बदमाशों द्वारा अगवा किए जाने की बात को लेकर देर रात से शनिवार की सुबह तक खेतों में कांबिंग करते रहे। लेकिन तीनों युवकों का कोई सुराग नहीं मिल पाया।
लेकिन जब शनिवार को तीनों युवकों को अगवा करने की खबर समाचार पत्रों में प्रकाशित हुई तो इस मामले का खुलासा हो गया इसे लेकर नोएडा की क्राइम ब्रांच टीम ने मेरठ पुलिस को फोन करके सूचना दी की तीनों युवक उनके कब्जे में हैं तथा तीनों युवकों को पूछताछ के लिए उठाया गया है। हालांकि इस मामले में यह भी बात साफ हो गई है की पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने तीनों युवकों को हड़बड़ाहट और जल्दबाजी के चलते दूसरे युवक की जगह उठा ले गई। इस मामले का खुलासा परिजनों द्वारा नोएडा पुलिस से संपर्क करने के बाद पता लगा की क्राइम ब्रांच फिरोज पुत्र दीनू को उठाने आई थी लेकिन पिता के नाम में दीनू और मीनू का अंतर होने की वजह से पुलिस हड़बड़ाहट में कंफर्म नहीं कर पाई फिरोज के साथ दो अन्य युवकों को भी बदमाश समझकर उठा ले गई।
इस मामले में नोएडा की क्राइम ब्रांच टीम ने पुलिस से जल्दबाजी में की गई गलती की माफी मांगते हुए निर्दोष बताया तथा छोड़ने की बात कही। जिसे लेकर परिवार वाले नोएडा युवकों को लेने के लिए रवाना हो गए थे।
वहीं दूसरी ओर देर रात आने पर दी गई तहरीर के आधार पर पुलिस में हड़कंप मचा हुआ था। लेकिन मामले का खुलासा होने पर पुलिस ने राहत की सांस ली। और सीओ सरधना ने बताया नोएडा क्राइम ब्रांच की टीम बिना सूचना दिए तीनों व्यक्ति को उठाकर ले जाने की बहुत आलोचना की है। और इसकी शिकायत आला अधिकारियों से करने की बात कही है