ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
मुख्य मंत्री जन आरोग्य में देखे गये ६२१२ मरीज देखे गये
March 16, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ
  • कोरोना वायरस से बचने के लिये किया जागरूक

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ ।  रविवार को सरवट सीएचसी पर ष्मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ मेले का आयोजन किया गयाए साथ ही बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा पोषण पखवाड़े का भी आयोजन यूपीएचसी राजेन्द्र नगर, नगला बटटू समेत ३१ सीएचसी व २६ यूपीएचसी में किया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नगलाबटटू में अपर निदेशक धर्मेन्द्र सिंह  व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र राजेन्द्र नगर में दक्षिण विधायक डा सोमेन्द्र तोमर ने फीता काट कर  शुभारंभ ने किया। इस दौरान ६२१२ मरीजों को मेले में चिकित्कों द्वारा देखा गया।  
इस दौरान आरोग्य मेले के तहत डॉक्टरों की टीम ने लोगों का नि:शुल्क इलाज तथा चैकअप किया। साथ ही पोषक आहार की जानकारी दी गई। पोषण प्रदर्शनी आयोजित की गई। कुपोषण को दूर करने को जागरूक किया गया। जनपद में ५७ प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों का उद्घाटन हुआ है जो रोज की भांति रविवार को भी खुलेगा। जिससे आस पास के मरीजों को चिकित्सा सुविधा मिल पाएगीए इन केंद्रों पर प्रधानमंत्री आयुषमॉन योजना का भी लाभ मिलेगा।
अपर निदेशक के द्वारा किये गये निरीक्षण में सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मवाना खूर्द व अब्दुल्ला पुर  में सभी डाक्टर एवं स्वास्थ्य कर्मी ,आंगनवाडी कार्यकत्री व आशा स्वास्थ्य परीक्षण में सहयोग करती हुई मिली। सभी केन्द्रों पर उपस्थिति ,मरीजों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक किया जा रहा था।
  यूपीएचसी में प्रभारी डा, रिऋा गुप्ता, डा राजेश, डा रविन्द्र आदि ने   पोषण पखवाड़े के तहत गर्भवती, धात्री, किशोरी व बच्चों के लिए पोषण आहार संबंधित जानकारी दी गई। इस मौके पर विधायक डा सोमेन्द्र तोमर ने यूपीएचसी के रजिस्टर को चैक करते हुए वहां पर आने वाले मरीजों से सुविधा मिलने की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा सरकार की मंशा है प्रदेश को बीमारियों से दूर किया जाए। उन्होनें कोरोना वायरस पर बोलते हुए कहा इसके लिये लोगों को जागरूक होने की आवश्यकता है। हाथ मिलाने के बजाए हाथ जोड कर नमस्ते करे। साबुन से हाथ धोए , मास्क का इस्तेमाल करे।
 पोषण पखवाडा 8 मार्च से 22 मार्च तक मनाया जाएगा। जिसका उद्देश्य जनसहयोग के माध्यम से कुपोषण को दूर करना है। और पोषण पखवाडे के अंतर्गत बाल विकास विभाग के साथ स्वास्थए शिक्षाए ग्राम विकासए पंचायत व खाद्य रसद विभाग मिलकर कुपोषित बच्चोंए एनीमिक किशोरियों व महिलाओं को चिह्नित कर उनको कुपोषण मुक्त करने सहयोग कर रहे है। और समय समय पर कुपोषण दूर करने को जागरूकता अभियान चलाया जाता है। उन्होंने कहा कि कुपोषण मिटाने के लिए सभी को जागरूक होना और पोषण आहार की ओर ध्यान देना होगा।
  सीएमओ डा राजकुमार ने बताया आरोग्य मेले में लोगों ने बढचढ कर भाग लिया है। इस दौरान उनको कोरोना वायरस के प्रति जागरूक किया गया है।इस दौरान मरीजों को एचबी, डीएलसी, यूपीटी, ब्लड ग्ुा्रप आदि का चेकअप की सुविधाएं दी गई।उन्होंने बताया आरोग्य मेले में कुल ६२१२ रोगी देखे गये । जिसमें १९८४ पुरूष, ३१०० महिलाएं एवं ११२६ बच्चे शामिल थे। इसमें लीवर के १३२ रोगी, संभावित टीबी के ३४ रोगी, ब्लड प्रेसर के ४०५ , कैंसर के ४ रोगी, सांस सबंधी ८८५ रोगी, मधुमेह के ३९६ रोगी, त्वचा के ११९० रोगी, कुपोषित के ३४ बच्चे अन्य रोग के १८२८ रोगी आये।  केंद्र पर होम्योपैथिक, एलोपैथीक, आयुर्वेदिक सभी तरह की दवाइयां मरीजो को दी गई। इस मौके पर जिला कार्यक्रम अधिकारी विनीत कुमार, बाल विकास परियोजना अधिकारी सुशील कुमार, अतेन्द्र सिंह, राजीव केसरी आदि मौजूद रहे।