ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
मुख्य विकास अधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा जीएस , रामा  सरस्वती मेडिकल कॉलेज का निरिक्षण किया
March 16, 2020 • Vikas Deep Tyagi • सहारनपुर मण्डल


अतुल त्यागी जिला प्रभारी
रिंकू सैनी रिपोर्टर

हापुड जिलाधिकारी अदिति सिंह के आदेशों के क्रम में आज मुख्य विकास अधिकारी उदय सिंह एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी रेखा शर्मा ने जनपद के 04 अस्पताल जीएस मेडिकल कॉलेज, रामा मेडिकल कॉलेज, सरस्वती मेडिकल कॉलेज एवं संयुक्त चिकित्सालय का औचक निरीक्षण कर कोरोना वायरस संक्रमण के चलते गहनता से निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने अस्पतालों में साफ सफाई की व्यवस्था, संक्रमण ग्रस्त रोगियों के लिए अलग से वार्ड तथा बेड की व्यवस्था का निरीक्षण किया गया। जी0एस0 मेडिकल कॉलेज 14 बेड आरक्षित है जिसमें एक वेल्टीनेटर अलग से उपलब्ध है तथा दो वेल्टीनेटर आईसीयू वार्ड में उपलब्ध है जो आवश्यकता पड़ने पर प्रयोग किए जा सकते हैं। इसके साथ ही ऑक्सीजन सिलेंडर, पी0पी0ई0 किट, मास्क व औषधियां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। मेडिकल एवं संपूर्ण परिसर में साफ-सफाई की व्यवस्था सही पाई गई। रामा मेडिकल कॉलेज 10 बेड आरक्षित है। आपातकालीन स्थिति में बैडो की संख्या बढ़ाई भी जा सकती है। मेडिकल में एक वेल्टीनेटर वार्ड में उपलब्ध है तथा 03 आईसीयू वार्ड में उपलब्ध है जो आवश्यकता पड़ने पर प्रयोग किए जा सकते हैं। निकासी व प्रवेश द्वार बिल्कुल अलग है। इसके साथ ही ऑक्सीजन सिलेंडर, पी0पी0ई0 किट, मास्क व औषधियां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। मेडिकल एवं संपूर्ण परिसर में साफ-सफाई की व्यवस्था सही पाई गई। इसके उपरांत सरस्वती मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया गया। जहां पर 10 बेड की व्यवस्था की जा रही है तथा कॉलेज में 6 वेल्टीनेटर उपलब्ध व क्रियाशील है। मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देश दिए कि आज ही 10 बेडों की व्यवस्था अनिवार्य रूप से कराना सुनिश्चित किया जाए। इसी क्रम में जनपद के निर्माणाधीन संयुक्त चिकित्सालय में निरीक्षण के दौरान पाया गया कि चिकित्सालय में 20 बेड Quarantine वार्ड बना दी गई हैं। डॉक्टरों की ड्यूटी 24 घंटे लगा दी गई है तथा आवश्यकता अनुसार 100 अन्य बैडो की व्यवस्था की जा सकती है। मास्क व औषधियां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। कोरोना वायरस संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए सभी मेडिकल कॉलेज में अन्य सरकारी तथा प्राइवेट अस्पताल के लिए बुखार एवं संक्रमण के लिए अलग ओपीडी तथा पर्ची पर अलग से नम्बर डालकर मरीज को सुविधाजनक रूप से आरक्षित ओपीडी में रखे जाने के निर्देश दिए। साथ ही उनको अन्य मरीजों से अलग रखा जाए। इसके अतिरिक्त सभी अस्पतालों में सैनिटाइजर, मास्क तथा हैंडवाश रखने के लिए प्रेरित किया जाए। मुख्य विकास अधिकारी ने आम जनमानस में  कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति जागरूकता लाने हेतु सार्वजनिक स्थलों एवं अस्पतालों में होर्डिंग, बैनरों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिए।