ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
मुस्लिम इलाको में शराब खाने बंद कराने की मांग
April 21, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ

  • विभिन्न मांगों को लेकर नायब शहर काजी ने जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन

यूरेशिया संवाददाता ताज मोहम्मद

मेरठ-जमियत उलमा-ए-हिंद के अध्यक्ष व नायब शहर काजी जैनुर राशिदीन ने बताया कि 24 अप्रैल को रमजान का महीना शुरू हो सकता है। रमजान माह में रात को तरावीह नमाज होती है। दिन में रोजा रखा जाता है। रोजेदारों को किसी प्रकार की तकलीफ ना हो इसलिए पानी व  बिजली की कटौती न की जाए। रमजान माह में मुस्लिम इलाकों में विशेष सफाई कराई जाए। कोरोना वायरस से बचाव के लिए सैनिटाइज भी कराया जाए। रोजा रखने एवं खोलने के समय पूर्व की तरह थानो एवं कंट्रोल रूम से सायरन बजाया जाए। मुस्लिम इलाकों के निकट शराब खाने बंद कराए जाए। रोजा रखने व खोलने के समय के लिए जो मस्जिदों के लिए हैड सायरन लेना चाहे उसे अनुमति दी जाए। नगर निगम द्वारा पानी के लिए जनरेटर की व्यवस्था कराई जाए। खराब स्ट्रीट लाइटों को ठीक कराया जाए। जिन लोगों की कोरोना वायरस रिपोर्ट नेगेटिव आई है। ऐसे लोगों एवं क्षेत्रों के लिए अफ्तारी व सहरी का खास इंतजाम कराया जाए।
नेगेटिव रिपोर्ट वाले लोगों को नमाज व कुरान पढ़ने की सहूलत दी जाए। रमजान माह में शाम पांच बजे से रात्रि आठ बजे तक के लिए फल, दूध, कन्फेक्शनरी की दुकान खोलने की अनुमति दी जाए। जिसमें रोजेदार अफ्तार व सहरी का सामान खरीदे सके। उन्होंने कहा कि अगर तीन मई के बाद लॉकडाउन खत्म होता है तो रात्रि में रोजेदारों के लिए चाय और खाने के होटल खोलने की अनुमति दी जाए। नायब शहर काजी जैनुर राशिदीन ने उक्त समस्या का समाधान कराने के लिए जिला अधिकारी को ज्ञापन दिया।