ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
नानौता में मनचलों का आंतक, भरे बाजार महिला से छेडछाड
September 30, 2020 • URESHIYA News • सहारनपुर मण्डल
  •  पूरा मामला बाजार में लगे सीसीटीवी कैमरे में हुआ रिकॉर्ड

अरविन्द सिसौदिया/युरेशिया

नानौता (सहारनपुर) ,  नानौता में मनचलों का आंतक किस कदर बढ गया है इसकी एक बानगी उस समय देखने को मिली जब महिला शाम के समय दूध लेने जा रही थी। तो पीछे से आएं बाइक सवार दो मनचलों ने भरे बाजार महिला को हाथ लगाते हुए फरार हो गए। उक्त पूरा मामला सीसीटीवी में कैद हो गया। उधर थाना पुलिस का कहना है कि मामले की तहरीर पुलिस के पास नहीं आई है। यह मामला पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। 
महिलाओं के साथ उत्पीडन और छेडछाड की घटनाएं लगातार बढती ही जा रही है। नानौता में सरेआम महिला के साथ छेडछाड किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। नगर के एक व्यापारी की पत्नि करीब शाम 6ः30 बजे हाथ में बाल्टी लिए दूध लेने के लिए जा रही थी। कि इसी दौरान एक बाइक पर सवार दो मनचले पीछे की तरफ से आएं और चलती बाइक पर महिला को पीछे की ओर हाथ लगाते हुए तेजी से फरार हो गए। घटना के बाद महिला कुछ समझ पाती तब तक बाइक सवार निकल चुके थे। घटना के बाद से महिला मानसिक दौर से गुजर रही है। हांलाकि महिला इस बारे में कुछ नहीं बोल रही है। लेकिन बाजार में दुकानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों में उक्त घटना रिकॉर्ड होने के बाद यह वीडियों तेजी से वायरल हो रहा है। इस मामले में थाना पुलिस का कहना है कि अभी तक मामले में पीडित पक्ष की तहरीर नहीं आई है। लेकिन बावजूद इसके आरोपियों को सीसीटीवी से पहचान कर जांच कराई जाएगी।

क्या कहते है नगरवासी -

नगर के गणमान्य लोगों सभासद सन्नी राणा, समाजसेवी अनुराग राणा, कुंवर रविन्द्र सिंह, रविन्द्र शर्मा, विरेन्द्र धीमान, कामसिंह पुंडीर, वेदप्रकाश अरोडा, प्रधानाचार्य मौ. अहमद खान, प्रधानाचार्य श्रीमति कुमुद पुंडीर, प्रधानाचार्य अनुज सैनी, शिवकुमार राणा, नेत्रपाल सिंह चौहान, राजपूत सभा अध्यक्ष राकेश पुंडीर, सुबोध चौहान, योगेश गुप्ता आदि का कहना है कि पिछले कुछ समय से मनचलों का आंतक लगातार बढता जा रहा है। जिसका एक कारण छेडछाड की घटनाएं होने के बाद फैसलो का होना भी है तो वहीं पुलिस की शिथिलता और रिपोर्ट दर्ज करने में आनकानी भी इसका बडा कारण है। उन्होनें पुलिस को मनचलों के खिलाफ कारवाई करने की मांग की है।

एक सप्ताह पूर्व भी हुआ फैसला -

नगर में दवाई लेने पंहुची एक युवती के साथ एक झोलाछाप द्वारा छेडछाड की गई थी। जिसकी शिकायत थाना पुलिस को पीडिता द्वारा लिखित रूप में की गई थी। लेकिन बावजूद इसके कुछ ही देर बाद मामले में फैसलां करते हुए रफा-दफा कर दिया गया।