ALL मेरठ बागपत/ बड़ौत हापुड़ मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
नोडल अधिकारी ने किया सुभारती अस्पताल व श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण
June 29, 2020 • विकास दीप त्यागी • मेरठ
  • नोडल अधिकारी ने वीडियो कॉलिंग के माध्यम से जाना भर्ती मरीजों का हाल, की उनके जल्दी स्वस्थ होने की कामना
  • मरीज के तीमारदारों को मरीज की स्थिति के बारे में आवश्यक रूप से अवगत कराया जाए - पवन कुमार

यूरेशिया संवाददाता 

मेरठ  नोडल अधिकारी पवन कुमार ने आज सुभारती मेडिकल कॉलेज में स्थापित छत्रपति शिवाजी सुभारती अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां चिकित्सा अधीक्षक के कक्ष में जिलाधिकारी व चिकित्सकों के साथ बैठक की। उन्होंने वहां भर्ती मरीजों से वीडियो कॉल के माध्यम से वार्ता की तथा उनका हालचाल जाना व उनके जल्दी स्वस्थ होने की कामना की। नोडल अधिकारी ने श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
     नोडल अधिकारी पवन कुमार ने कहा कि कोरोना महामारी का इलाज करा रहे व्यक्तियों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो यह सुनिश्चित किया जाए, उनको अच्छी गुणवत्ता का भोजन उपलब्ध हो । मरीजों के तीमारदारों को मरीजों की स्थिति के बारे में समय-समय पर आवश्यक रूप से अवगत कराया जाए। अस्पताल में साफ सफाई की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। नोडल अधिकारी ने भर्ती मरीज योगिंदर से वीडियो कॉल के माध्यम से बात की।
     उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की निर्बाध आपूर्ति हो यह सुनिश्चित किया जाए। वही श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि अगर किसी मरीज को रेफर किया जाता है तो उसकी संपूर्ण डिटेल के साथ ही उसको रेफर किया जाए। 
 जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने बताया कि छत्रपति शिवाजी सुभारती अस्पताल में 53 मरीज भर्ती हैं तथा श्रीराम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में 75 मरीज भर्ती हैं। उन्होंने बताया कि श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में 100 बेड की क्षमता है, मेडिकल कॉलेज द्वारा फैसिलिटी उपलब्ध कराई गई है तथा डॉक्टर व स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगाया गया है। 
 इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर अंकित खंडेलवाल, सुभारती अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ जेपी सिंह, श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के डॉ मनीष चंद्र, पीडी डीआरडीए भानु प्रताप सिंह सहित अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे।