ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
परमवीर हत्याकांड में नामजद एक आरोपी तमंचे के साथ गिरफ्तार
July 1, 2020 • विकास दीप त्यागी • बागपत/ बड़ौत
  • कुरड़ी का परमवीर तुगाना हत्याकांड

विश्व बंधु शास्त्री

बागपत। जनपद के छपरौली थाना क्षेत्र के कुरड़ी गांव में अपराधियों की ओर से की गई फायरिंग मे परमवीर तुगाना की हत्या व अन्य चार साथी घायल करने की घटना में नामजद एक अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार कर उसके कब्जे से घटना में प्रयुक्त एक पिस्टल व कारतूस बरामद किया है। 
पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने बताया कि
22 जून को वादी सुरेन्द्र सिंह पुत्र ओमकार सिंह निवासी तुगाना ने छपरौली थाने पर लिखित सूचना दी थी कि उसके भाई परमवीर तुगाना व उसके अन्य साथियो को ग्राम कुर्डी मे देशपाल के मकान के बाहर सडक किनारे कार में सवार होकर आए बदमाशों ने उनके ऊपर फायरिंग कर दी थी जिसमें उसका भाई गंभीर रूप से घायल हो गया था। उन्होंने बताया कि फायरिंग करने वालों में सचिन, रोबिन पुत्रगण नरेश, नरेश पुत्र चन्दगी निवासीगण ग्राम हलालपुर थाना छपरौली, लीलू पुत्र चतरपाल, चतरपाल पुत्र इकबाल निवासी ग्राम करनावल थाना सरुरपुर जिला मेरठ व परवेन्द्र पुत्र सुरेश निवासी ग्राम कुर्डी व अन्य करीब आधा दर्जन अज्ञात बदमाश शामिल रहे थे। इस सूचना पर थाना छपरौली पर मुकदमा पंजीकृत किया था। उन्होंने बताया कि उपचार के दौरान 29 जून को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में घायल परमवीर तुगाना की मृत्यु हो गई। इसके बाद पंजीकृत अभियोग में धारा 302 भादवि की वृद्वि की गई। 
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना की गम्भीरता को देखते हुए उन्होंने अपर पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी बडौत के नेतृत्व में तीन विशेष टीमों का गठन किया। इसी क्रम में 30 जून को थाना छपरौली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर ग्राम हलालपुर मंदिर के पास से नामज़द अभियुक्त सचिन उर्फ मोनू पुत्र नरेश निवासी ग्राम हलालपुर थाना छपरौली को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त के कब्जे से घटना में प्रयुक्त एक अदद पिस्टल 32 बोर मय 04 कारतूस नाजायज बरामद किये गये है। उन्होंने बताया कि अभियुक्त सचिन उर्फ मोनू के विरूद्व उत्तराखण्ड व पंजाब एवं बागपत में हत्या, हत्या का प्रयास, डकैती, गैंगस्टर आदि के 11 मुदकमें पंजीकृत है। विवेचना के नामजद अभियुक्तों के अतिरिक्त मोहित पुत्र नरेश निवासी टीकरी थाना दोघट का संलिप्त होना एवं सुनील राठी पुत्र नरेश राठी निवासी ग्राम टीकरी थाना दोघट का आपराधिक षडयन्त्र में शामिल होना प्रकाश में आया है।
एसपी ने बताया कि अभियुक्त सचिन उर्फ मोनू ने पूछताछ में स्वीकार किया कि उसके पिता एवं सुनील राठी के पिता के आपस में अच्छे सम्बन्ध थे तथा उसका भाई रोबिन व सुनील राठी एक साथ मेरठ में पढ़ते भी थे। तभी से ही उनके सुनील राठी से अच्छे सम्बन्ध हो गये थे। सचिन उर्फ मोनू ने सुनील राठी के कहने पर अमित उर्फ भूरा को पुलिस अभिरक्षा से छुड़ाया था तथा पुलिस के हथियार भी लूट लिये थे। सचिन उर्फ मोनू वर्ष 2018 में जेल से जमानत पर आया था तथा आगामी जिला पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य के वार्ड नं0 7 से चुनाव की तैयारी कर रहा था। इसी वार्ड से परमवीर तुगाना अपने भाई कृष्णवीर को जिला पंचायत सदस्य का चुनाव बाहुबल पर लड़ाना चाहता था तथा वार्ड नं0 6 से परमवीर स्वयं चुनाव लड़ना चाहता था। इसी वार्ड से सुनील राठी अपने मामा के लड़के परवेन्द्र निवासी कुर्डी या अपनी माँ राजबाला को जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ाना चाहता था। सुनील राठी के कहने पर ही परवेन्द्र चुनाव की तैयारी कर रहा था। इधर परमवीर व उसका भाई कृष्णवीर भी चुनाव की तैयारी कर रहे थे। सुनील राठी जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए अपनी माँ को चुनाव लड़ाना चाहता था। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के रास्ते से परमवीर तुगाना को हटाने के लिए इसके कट्टर दुश्मन अमित उर्फ लीलू से सचिन उर्फ मोनू ने हाथ मिलाया था। 
करीब एक माह पहले इन लोगों ने सुनील राठी के कहने पर ही ग्राम हलालपुर में सचिन उर्फ मोनू ने अपने मकान पर बैठकर परमवीर तुगाना की हत्या की योजना बनाई थी। योजना के अनुसार सुनील राठी ने शूटरों की व्यवस्था की थी। शूटरों को मोहित व रोबिन जानते थे। घटना को अंजाम देने से पहले इन लोगों ने परमवीर की रैकी की थी। ये लोग परमवीर तुगाना की जानकारी वीडियो काॅल पर देते थे। इस सूचना पर सचिन उर्फ मोनू स्वयं अपनी गाड़ी में नाजायज पिस्टल लेकर ग्राम कुर्डी आया जहाँ अमित उर्फ लीलू, परवेन्द्र, मोहित, व इसका भाई रोबिन व अन्य शूटर मिले। योजना के अनुसार सभी ने ग्राम कुरडी में देशपाल के मकान के बाहर चबूतरे पर बैठे परमवीर तुगाना व उसके साथियों पर जान से मारने की नियत से फायरिंग कर घायल कर दिया था। पुलिस ने आरोपी सचिन को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।