ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
परिवार नियोजन की सभी सेवाएं होंगी बहाल
June 4, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ
  • कोविड.19 डयूटी में लगी आशा कार्यकर्ता अब कंडोम और गर्भ निरोधक गोलियां भी देंगी
  • कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उपलब्ध कराई जाएंगी परिवार नियोजन सेवाएं

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ। कोविड-19 की डयूटी में जुटी आशा और एएनएम क्षेत्र में भ्रमण के दौरान कंडोम और गर्भनिरोधक गोलियों का वितरण करेंगी ताकि दूर दराज के क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को जरूरत के अनुसार परिवार नियोजन के साधन उपलब्ध होते रहें। परिवार नियोजन सेवाओं को पुन: शुरू करने के आदेश शासन की ओर से मिले हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी सीएमओ डा राजकुमार ने बताया प्रमुख सचिव का आदेश मिलने के बाद विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि सभी नॉन कोविड इकाइयों पर परिवार नियोजन सेवाएं पुन: संचालित की जाएं। 
सीएमओ डा. राजकुमार ने बताया कोरोना संक्रमण के कारण स्वास्थ्य विभाग की तमाम सेवाएं रोक दी गयीं थीं, इन्हीं में एक थी परिवार नियोजन सेवा। अब शासन ने निर्णय लिया है कि परिवार नियोजन सेवाएं बहाल की जाएं। इस संबंध में प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को आदेश दिये हैं कि महिला व पुरुष नसबंदी को छोडक़र अन्य परिवार नियोजन सेवाएं पुन: संचालित की जाएं। आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 की डयूटी में लगी फ्रटंलाइन स्वास्थ्य कर्मी आशा-एएनएम क्षेत्र भ्रमण के दौरान कंडोम और गर्भ निरोधक गोलियों का भी वितरण करें। इसके अलावा जिन क्षेत्रों में कोविड-19 का प्रभाव नहीं हैए उन क्षेत्रों में दो बच्चों के बीच अंतराल विधियों के बारे में प्रचार प्रसार किया जाए । कंटेनमेंट एरिया में रहने वाले,डयूटी करने वाले या फिर संक्रमण के लक्षण वाली आशा, एएनएम और अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की डयूटी परिवार नियोजन कार्यक्रम में न लगाई जाए।
सीएमओ ने बताया इसके अलावा नॉन कोविड प्रसव इकाइयों में परिवार नियोजन के लिए अपनाई जाने वाली सभी अस्थाई विधियां. पीपीआईयूसीडी, पीएआईयूसीडी, अंतरा, छाया, कंडोम और गर्भनिरोध गोलियों पर पहले की तरह ही कार्यक्रम चलाए जाने के आदेश दिए गए हैं। स्वास्थ्य उपकेंद्रों पर आयोजित ग्राम्य स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस वीएचएनडी के आयोजन के दौरान भी सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए कंडोम और गर्भनिरोधक गोलियों का वितरण करने के आदेश शासन की ओर से दिए गए हैं।