ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
पोषण पखवाड़ा : गृह भ्रमण के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने कोरोना के प्रति जागरूक किया
March 16, 2020 • Vikas Deep Tyagi • उत्तर प्रदेश
  • महिलाओं और बच्चों को हाथ धोने का तरीका बताया
  • कोरोना के लक्षण और बचाव के बारे में भी दी जानकारी

सीकरी कलां गांव में कोरोना के प्रति जागरूकता अभियान चलातीं महिलाएं।

यूरेशिया संवाददाता

गाजियाबाद। समेकित बाल विकास योजना (आईसीडीएस) की ओर से चलाए जा रहे पोषण पखवाड़े के दौरान सोमवार को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने गृह भ्रमण किया। गृह भ्रमण के दौरान उन्होंने ग्रामीण महिलाओं को कोरोना वायरस के बारे में जागरूक किया। जन जागरण के लिए गांवों में महिलाओं को इकट्ठा करके सामुदायिक स्तर पर कोरोना के लक्षण और बचाव के बारे में जानकारी दी गई। महिलाओं ने अपने हाथों में लक्षणों और बचाव से संबंधित जानकारी लिखी तख्तियां हाथ में लेकर गांवों में भ्रमण किया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी शशि वार्ष्णेय ने बताया सीकरी कलां गांव में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने गृह भ्रमण के दौरान महिलाओं को हाथ धोने का तरीका बताकर प्रदर्शन कराया। इस दौरान महिलाओं को कोरोना, इसका संक्रमण कैसे फैलता है? इससे बचाव कैसे किया जा सकता है, इस के संबंध में जानकारी दी गई। इसके बाद महिलाओं के साथ मिलकर इस संबंध में जानकारी लिखी तख्तियां तैयार कराई गईं। तख्तियों पर लिखा था, कोरोना संक्रमण एक से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। यह हवा में नहीं फैलता है। एक से दूसरे व्यक्ति को संक्रमण उसे छूने या फिर खांसने और छींकने से फैल सकता है। इसलिए हाथ मिलाने और गले मिलने से बचें और समय-समय पर साबुन से हाथ धोते रहें। खांसते और छींकते समय कम से एक मीटर की दूरी बनाए रखें और नाक पर रूमाल या बांह मोड़कर मुंह और नाक को ढक लें। जुखाम, बुखार और खांसी होने पर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में संपर्क करें। विदेश यात्रा से लौटने वाले व्यक्ति के संबंध में स्वास्थ्य विभाग को सूचित करें।

जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया इसके अलावा सोमवार को पोषण पखवाड़ा के अंतर्गत आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों का वजन किया गया और लंबाई मापी गई। इसके अलावा पोषण पर चर्चा की गई। पूर्व में चिन्हित कुपोषित बच्चों के घरों का भ्रमण किया गया और उनके माता-पिता से पोषण पर चर्चा की गई।