ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान शुरू
January 30, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मुजफ्फरनगर

यूरेशिया संवाददाता
मुजफ्फरनगर। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि को कुष्ठ निवारण दिवस के रूप में मनाया गया। इसी परिप्रेक्ष्य में गुरूवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान शुरू किया गया। इस अवसर पर रुडकी रोड स्थित कुष्ठ आश्रम में फल वितरित किया गया एवं स्प्लिंट एमसीआर चप्पलआदि का वितरण किया गया।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.प्रवीण चोपड़ा ने कहा गांधी अपने जीवन काल में कुष्ठ रोगियों की सेवा व उनके प्रति छुआछूत एवं भेदभाव को समाप्त करने का भरपूर प्रयास करते रहे। उन्होंने पूरे विश्व में यह साबित कर दिया कि कुष्ठ रोग छूने से नहीं फैलता है। उन्होंने कहा गांधी के कुष्ठ मुक्त भारत के सपने को पूर्ण करने के लिए सभी को प्रयत्नशील रहना चाहिए। कुष्ठ रोग की पहचान एवं जांच शुरुआत में ही करा ली जाये और उसका पूरा उपचार किया जाये तो रोग पूर्ण रूप से ठीक हो जाता है। कुष्ठ रोग से होने वाली विकलांगता से भी बचा जा सकता है,जिसका सभी सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज उपलब्ध है,इसके उपचार की अवधि छह माह अथवा12माह हो सकती है।
कुष्ठ रोग के नोडल अधिकारी प्रदीप कुमार शर्मा ने बताया सन1991-9२में जिले में करीब30०कुष्ठ रोगी थे, 5साल पहले इनकी संख्या120तक आ गई। अब यह संख्या घटकर मात्र46रह गई है। उन्होंने कहा कुष्ठ रोग का पुख्ता इलाज मल्टी थेरेपी एमडीटी से माह या एक साल तक होता है। वर्तमान में14मरीज छ:माह तथा29मरीज एक साल के उपचार वाले हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि अगर किसी के पडोस में किसी भी व्यक्ति को कुष्ठ रोग के लक्षण दिखाई पडेंतो वह अपने क्षेत्र की आशा,आंगनबाडी या स्वास्थ्य कार्यकर्ता से सम्पर्क कर शीघ्र ही निशुल्क जांच और उपचार करायें।