ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
टीमवर्क के साथ करें कार्य , व्यवस्थाओं में दिखे सुधार : प्रसाद
June 17, 2020 • विकास दीप त्यागी • मेरठ
  • नोडल अधिकारी ने एलएलआरएम मेडिकल कालेज में की चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टाफ के साथ बैठक
  • भविष्य को ध्यान में रखकर कार्ययोजना बनाये मेडिकल कालेज
  • मेडिकल स्टाफ की लापरवाही से न हो कोई मृत्यु, मानव क्षति को कम करें
  • शासन स्तर से लिया जा रहा फीडबैक, कार्यो में लाएं पारदर्शिता, निष्ठा के साथ करें कार्य
  • ड्यूटी में लापरवाही पर होगी कड़ी कार्रवाई, मेडिकल टीम के साथ खड़ा है प्रशासन : जिलाधिकारी

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ, 17 जून 2020 । जनपद के नोडल  अधिकारी आबकारी आयुक्त पी गुरू प्रसाद ने बुधवार को लाला लाजपत रॉय मेडिकल कालेज का निरीक्षण कर वहां विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा सभागार में चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टाफ के साथ बैठक कर उन्हें निर्देशित किया कि सभी टीमवर्क के साथ कार्य करें, व्यवस्थाओं में सुधार लाएं व मानव क्षति को कम करें। उन्होंने कहा कि कार्यों में लापरवाही करने पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। कोई भी मृत्यु मेडिकल स्टाफ की लापरवाही से न हो यह हर दशा में सुनिश्चित किया जाये।
कोरोना संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिए शासन द्वारा जनपद के नोडल  अधिकारी बनाये गये पी गुरू प्रसाद ने मंगलवार को कोरोना के कारण जिन व्यक्तियों की मृत्यु हुयी है, उनके परिवारवालो और जो मरीज ठीक होकर घर चले गये हैं उनसे उनके घर जाकर व सर्किट हाउस में मुलाकात कर फीड़बैक लिया है। उन्होंने कहा कि शासन स्तर से भी सीधे मोबाइल पर सम्पर्क कर ठीक हुये मरीजों, मृत व्यक्तियों के परिवारीजनों से फीडबैक लिया जा रहा है, इसलिए सभी चिकित्सक व स्टाफ पूरी निष्ठा व पारदर्शिता के साथ कार्य करें। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ शासन की मंशा के अनुरूप कार्य करे। कोरोना से मृत्यु दर को कम करना अति आवश्यक  है।
नोडल अधिकारी ने मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य से कहा कि वह सभी चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी लगायें, अगर कोई ड्यूटी करने से मना करता है तो उसके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाये। उन्होंने चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ से कहा कि अगर किसी को कार्यों के निर्वहन में कोई परेशानी आ रही है तो वह जरूर बतायें, उनकी समस्याओं का निस्तारण अवश्य किया जायेगा। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के संदर्भ में भविष्य में कितने मरीज आ सकते है और उनका किस प्रकार इलाज करना है इसकी एक कार्ययोजना अवश्य बनायी जाये और उस पर अमल किया जाये।  
जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि यह संक्रमण का समय है। सभी को मिलकर कार्य करना है। उन्होंने कहा ड्यूटी में लापरवाही करने पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मुकदमा भी दर्ज करवाया जा सकता है। उन्होंने कहा अपर जिलाधिकारी नगर व पुलिस अधीक्षक नगर हर दो  दिन में मेडिकल कालेज आकर यहां की व्यवस्थाओं का जायजा लेंगे। अगर किसी को परेशानी है तो वह उनको अवश्य अवगत करा दें ताकि उसका निस्तारण प्राथमिकता पर करवाया जा सके। प्रशासन मेडिकल कालेज के साथ है। इस अवसर पर डा. टीवीएसआर्य व प्रधानाचार्य डा एसके गर्ग ने पॉवर पांइट प्रजेंटेशन के माध्यम से कोरोना की वास्तविक स्थिति, समस्याओं व निस्तारण पर प्रस्तुतीकरण देते हुये बताया कि वर्तमान में मेडिकल कालेज में कोरोना पॉजिटिव के 80 मरीज भर्ती हैं।
इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय साहनी, केजीएमयू के डा. शरद चन्द्रा, अपर जिला अधिकारी नगर अजय तिवारी, एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. राजकुमार, प्रधानाचार्य मेडिकल कालेज डा. एसके गर्ग, डा. पीपी सिंह, डा. टीवीएस आर्य, डा. एसपी सिंह सहित अन्य चिकित्सक, अधिकारी व पैरामेडिकल कर्मचारी उपस्थित रहे।