ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
वेंक्टेश्वरा का ग्रामीण शिक्षा प्रबन्धन के लिए मानव संसाधन विकास के लिए भारत सरकार से करार
March 13, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ

यूरेशिया संवाददाता
मेरठ। आदर्श ग्राम परिकल्पना में ग्रामीण विकास प्रबन्धन का शैक्षणिक अनुबन्ध मील का पत्थर साबित होगा। ग्राम्य विकास प्रबन्धन में भारत सरकार के साथ शैक्षणिक करार करने वाला श्री वेंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय उत्तर भारत का पहला निजी विश्वविद्यालय हो गया है। उक्त जानकारी विवि के प्रतिकुलाधिपति राजीव त्यागी ने दी।
उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रो में अन्तोदय तक आदर्श गाँव की परिकल्पना को साकार करते हुए ग्राम्य विकास प्रबन्धन में भारत सरकार के साथ मिलकर जुलाई 2020 से यूजी एवं पीजी पाठ्यक्रम शुरु करेगा। रूरल मेनेजमेन्ट में भारत सरकार के साथ मिलकर पाठ्यक्रम शुरु करने वाला श्री वेंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय उत्तर भारत का पहला निजी शिक्षण संस्थान, विश्वविद्यालय है। आयोजित इस ऐतिहासिक अनुबन्ध पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. पीके भारती एवं महात्मा गाँधी ग्रामीण शिक्षा परिषद भारत सरकार के निदेशक डा. पी राजेश्वर जोनालगडडा ने हस्ताक्षर कर करार की प्रतिलिपि एक दूसरे को सौंपी।
विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डा. सुधीर गिरि ने इसे ऐतिहासिक अनुबन्ध बताते हुए इसका पूरा श्रेय विश्वविद्यालय के योग्य एवं अनुभवी शिक्षको की टीम को दिया है। उन्होने कहा कि इस नवीन पाठ्यक्रम में जहां एक ओर ढेरो रोजगार के अवसर उपलब्ध है, वही दूसरी और इससे गाँवो के विकास एवं सामाजिक व आर्थिक उत्थान के नये आयाम स्थापित होगे। इस मौके पर कुलसचिव प्रो. पीयूष पाण्डे, निदेशक डा. प्रभात श्रीवास्तव, डा. रमेश पाठक, डा. एसपी पाण्डे, अल्का सिंह, शिवी वत्स, मीडिया प्रभारी विश्वास राणा आदि मौजूद रहे।                                                                    

कार्यक्रम में उपस्थित विवि के शिक्षकगण।