ALL मेरठ सहारनपुर मण्डल मुजफ्फरनगर बागपत/ बड़ौत उत्तर प्रदेश मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय राजनीतिक विविध करियर
विवि में हुआ युवाओं के लिए योजनाओं व कौशल सतरंग का शुभारंभ
March 13, 2020 • Vikas Deep Tyagi • मेरठ
  • जिला कौशल योजना के लिए 2 लाख व कौशल पखवाडे के लिए दिये प्रति तहसील 25 हजार
  • कार्य करने का अपना एक दृष्टिकोण, अच्छे दृष्टिकोण वाले होते है सफल- मुख्यमंत्री

यूरेशिया संवाददाता

मेरठ। व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के तत्वाधान में लखनऊ में मुख्यमंत्री द्वारा कौशल सतरंग कार्यक्रम के शुभारम्भ का सजीव प्रसारण चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के बृहस्पति भवन में किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जिला कौशल विकास योजना के लिए 2 लाख प्रति जनपद व कौयरल पखवाडे के लिए 25 हजार प्रति तहसील धनरायिर को डिजीटली ट्रांसफर किया तथा आईआईटी कानपुर, आईआईएम लखनऊ व तीन प्लेसमेंट एजेन्सी के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर भी किये गये। इस अवसर पर उन्होने उम्मीदों के संग कौशल सतरंग के संग नामक कॉफी टेबल बुक का विमोचन भी किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्य करने का अपना एक दृष्टिकोण होता है। अगर अच्छा दृष्टिकोण होता है तो परिणाम भी अच्छे होते है। उन्होने बताया कि वर्ष 2015-16 में प्रदेयर की प्रति व्यक्ति आय 42 हजार थी। जबकि देयर की रू0 1.20 लाख थी। उन्होने बताया कि उनके कार्यकाल में प्रदेश की प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोत्तरी हुयी है। यह इस बात का द्योतक है कि प्रदेश प्रगति पथ पर अग्रसर है। कहा कि एक जनपद एक उत्पाद योजना से 5 लाख युवाओं को रोजगार से जोड़ा गया तथा इस कार्यक्रम की सफलता को देखते हुये भारत सरकार ने भी देशभर में यह कार्यक्रम उत्तर-प्रदेश की तर्ज पर लागू करने के लिए प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर में गन्ना होता है उनके सुझावों पर वहां गुड उत्पादन वृहद स्तर पर शुरू किया गया और वहां आज 113 प्रकार के गुड बनाये जाते है और उनका निर्यात भी किया जाता है।
प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि श्रम विभाग द्वारा 3.25 लाख लोगों को सेवायोजित किया गया। श्रमिक श्रम विभाग द्वारा चलायी जा रही योजनाओं का लाभ लें तथा अपना आर्थिक व सामाजिक उत्थान करें। व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने कहा कि कौशल विकास के माध्यम से युवक, युवतियों को हुनरमंद बनाकर रोजगार उपलब्ध कराना व उन्हें स्वावलंबी बनाना यह कौशल विकास मिशन का उद्देश्य है। उन्होने कहा कि 2 लाख बेरोजगार युवक, युवतियों को प्रतिवर्ष रोजगार उपलब्ध कराना तथा 6 लाख युवक, युवतियों को प्रतिवर्ष प्रशिक्षण देना कौशल विकास का मिशन है।
इस अवसर पर विधायक किठौर सत्यवीर त्यागी, जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, सीडीओ ईशा दुहन व अन्य जनप्रतिनिधि तथा बडी संख्या में छात्र-छात्राएं व अध्यापकगण व अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम में शामिल छात्र-छात्राएं, शामिल अधिकारीगण, सजीव प्रसारण में जानकारी देते मुख्यमंत्री व अन्य।